September 24, 2022

घर में ऐसे बनाए कीटनाशक स्प्रे

 

घर के पीछे लहलहाती ताजा सब्जियाँ, टोकरियों में तैयार किया सलाद गार्डन, हर्बल क्यारी, पेड़ों से सटी लताओं पर लगी तोरई या लौकी, गुच्छों में लटकते टमाटर, तरह-तरह के फूल किसी भी सुघड़ गृहिणी के बागवानी के शौक के परिचायक हैं।
बागवानी के शौकीन अपनी कड़ी मेहनत और लगन से किचन गार्डन को सम्भालने की हर सम्भव कोशिश में लगे रहते हैं। उनकी कोशिशों के बावजूद सब्जियों की पत्तियों पर कीड़े व फफूंदी लग जाती है। इसके चलते पत्तियों का झड़ना जारी रहता है।
 
आम धारणा है कि सब्जियों की पत्तियों पर बाजार में मौजूद कीटनाशकों का छिड़काव करने से कीड़े मर जाते हैं, पर कृषि वैज्ञानिक पौधों पर दवाओं के छिड़काव का समर्थन नहीं करते। ऐसे में आप अपने किचन में उपलब्ध सामान से कुछ ऐसे कीटनाशक स्प्रे झटपट तैयार कर सकते हैं जो पेड़ों के लिए हानिकारक नहीं होते। एफिड, पाउडरी मिल्ड्यू, छोटी मकड़ी, फफूंदी आदि पौधों की फोटोसिंथेसिस प्रक्रिया को निष्क्रिय बना सकें, इसके लिए प्राकृतिक तरीके से कीटनाशक स्प्रे बनाएँ जो बनाने में आसान, ईकोफ्रेंडली, वातावरण का संतुलन बनाने में सहायक होने के साथ-साथ झटपट व आसानी से तैयार हो जाते हैं।
 
पौधों की देखभाल के लिए कीटनाशक स्प्रे बनाने के लिए स्प्रे बोतल, लिक्विड सोप, लहसुन पाउडर या पेस्ट और मिनरल ऑयल या बेबी ऑयल की जरूरत होती है। किसी भी साधारण से किचन गार्डन में कीटपतंगों से निबटने के लिए इन सामग्रियों से कई प्रकार के कीटनाशक स्प्रे बनाए जा सकते हैं।
 
1. सोप स्प्रे कीटनाशक
 
सामग्री – एक चम्मच लिक्विड सोप, 3 से 5 लीटर पानी।
विधि – इन दोनों को अच्छे से मिला लें। स्प्रे बोतल में डालकर पौधे के पत्तों के दोनों ओर हल्का-हल्का स्प्रे करें। कीट खुद-ब-खुद मर जाएंगे। ऐसा करने से पहले इस बात पर ध्यान अवश्य दें, ऐसा तो नहीं कि आप बाल्टी भर साबुन का पानी सीधे गमले या क्यारी में डाल रही हैं।
 
2. बेकिंग सोडा स्प्रे

सामग्री – एक चम्मच डिश वाशिंग लिक्विड 3 से 5 लीटर पानी, 3 चम्मच बैकिंग सोडा।
विधि – इन तीनों चीजों का मिश्रण बना लें। इस घोल को स्प्रे बोतल में डालकर कीटों से ग्रसित पौधों के पत्तों के दोनों ओर स्प्रे करें।
 
यदि पौधे ज्यादा खराब हैं तो गले-सड़े पत्तों को निकालकर फेंक दें। फफूंदी लगे पौधों के लिए यह स्प्रे बहुत कारगर होता है।
 
3. लहसुन स्प्रे

सामग्री – एक गांठ लहसुन 3 से 5 लीटर पानी।
विधि – लहसुन छीलकर इसकी कलियों को मिक्सी में एक कप पानी में अच्छी तरह से पीस लें। स्प्रे बोतल में डालकर फ्रिज में एक दिन के लिए रख दें। अगले दिन अच्छे से छलनी से इसे छान लें। फिर पानी में इसे डालें। स्प्रे बोतल में भरकर कीटग्रसित पौधों पर इसका हफ्ते में 1 या 2 बार छिड़काव करें।
 
4. लहसुन और मिर्चीयुक्त स्प्रे

सामग्री – 7-8 कलियाँ लहसुन, एक चम्मच लाल पिसी मिर्च, एक कद्दूकस किया प्याज, एक चम्मच लिक्विड सोप, 3 से 4 लीटर गरम पानी।
विधि – सारी सामग्री को गरम पानी में घोल लें। 2 दिन रखा रहने दें। इस घोल का स्प्रे बोतल में डालकर रखें और ग्रसित पौधों पर इसका छिड़काव करें। यह स्प्रे गोभी में लगने वाले कीड़ों जैसे रेंगते कैटरपिलर, एफिड और फ्ली बीटल को नष्ट करने में बहुत ही फायदेमंद होता है।
 
5. दूध का स्प्रे

सामग्री – कुछ मात्रा में दूध।
विधि – भगोने में जो दूध बच जाता है, कई गृहिणियाँ इसे फेंक देती हैं। ऐसा न करें, बल्कि इसमें कुछ पानी मिला दें। स्प्रे बोतल में भर कर इसका छिड़काव फफूंदीयुक्त पौधे या जिस पर पाउडरी मिल्ड्यू कीट रहता हो, सप्ताह में 3 बार करें। पौधा हरा-भरा हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.